Windows 10 Ki Speed Kaise Badhaye? Slow Computer Ko Fast Kaise Kare-Ultimate Free Guide

Windows 10 Ki Speed Kaise Badhaye

नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम आनंद पटेल है और मैं यहाँ एक नया टॉपिक Windows 10 Ki Speed Kaise Badhaye लेकर आया हूँ, यह एक सामान्य समस्या है और अधिकतर कंप्यूटर और लैपटॉप यूजर धीमी सिस्टम स्पीड और ख़राब परफॉरमेंस की समस्या का सामना करते हैं।

इसीलिए हम यहाँ आपके सवालों और समस्याओं जैसे Windows 10 Ki Speed Kaise Badhaye, Slow Computer Ko Fast Kaise Kare, computer ko fast kaise kare, pc ko fast kaise kare, windows 10 ko fast kaise kare के सबसे अच्छे समाधान और उपाय बताने जा रहे हैं।

ये उपाय और टिप्स सभी विंडोज जैसे विंडोज 7, विंडोज 8, विंडोज 8.1, विंडोज 10 पर काम करेंगे और इन उपायों और टिप्स का प्रयोग करने के बाद १००% आपके सिस्टम की स्पीड बढ़ जाएगी, और आप बहुत अच्छी कंप्यूटर स्पीड का अनुभव करेंगे, तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें और अपने कंप्यूटर को पहले से बेहतर और तेज बनाये।

Windows 10 Ki Speed Kaise Badhaye

जब हम एक नया लैपटॉप या कंप्यूटर खरीद कर लाते हैं तब हम उसकी स्पीड और परफॉरमेंस को लेकर बहुत उत्सुक और खुश होते हैं, पर कुछ समय बाद उसकी स्पीड कम हो जाती है, और वह धीमा परफॉर्म करने लगता है और हमारी जरूरतों को पूरा नहीं करता जिससे हम निराश और हताश हो जाते हैं।

तो हम यहाँ आपके सवाल Windows 10 Ki Speed Kaise Badhaye के सबसे अच्छे समाधान बताने जा रहे हैं जिससे आपका सिस्टम तेज और स्वस्थ हो जाएगा और आपकी उम्मीद के अनुसार काम करेगा।

स्टार्टअप एप्स को बंद करना

जब भी हम अपना लैपटॉप या कंप्यूटर स्टार्ट करते हैं तो कुछ एप्स उसके साथ अपने आप स्टार्ट हो जाती हैं, तो हम सबसे पहले उन एप्स को स्टार्टअप प्रोग्राम को बंद करेंगे जिनकी हमें जरुरत नहीं है, हमें स्टार्टअप में सिर्फ उन एप्स को रखना चाहिए जिनका हम प्रयोग करते हैं या जिनकी हमें जरुरत होती है।

इसके लिए सबसे पहले task manager में जाइये, task manager में जाने के लिए आप शॉर्टकट ctrl + shift + esc का प्रयोग कर सकते हैं, या सीधे विंडोज के सर्च बार में task manager टाइप करके भी टास्क मैनेजर ओपन कर सकते हैं।

Windows 10 Ki Speed Kaise Badhaye

स्टार्टअप मैनेजर में जाने के बाद स्टार्टअप पर क्लिक करें, यहां आप सभी startup एप्स को देख सकते हैं और जिनकी आपको जरुरत नहीं है या जिनका आप प्रयोग नहीं करते उन्हें बंद (disable ) कर सकते हैं।

जैसे इमेज में हम EOS Utility एप का उपयोग नहीं करते तो हम उसे disable कर देंगे। किसी भी ऐप को बंद करने के लिए उसके status पर कर्सर ले जाकर right क्लिक करे, आपको enable और disable का ऑप्शन मिल जाएगा और आप उसे डिसेबल कर सकते हैं,

आपके स्टार्टअप में और भी कई एप्स हो सकती जिनका आप यूज़ नहीं करते, तो आप उन सब एप्स को बंद कर दे जिससे आपके कंप्यूटर की स्टार्टअप और बूटिंग स्पीड बढ़ जाएगी।

अगर आप जानना चाहते हैं की इंटरनेट कैसे काम करता है इंटरनेट कनेक्शन कितने प्रकार के होते हैं तो लिंक पर क्लिक करके आप हमारा वह पोस्ट पढ़ सकते हैं।

बिना जरुरत की एप्स को अनइंस्टाल करना

यह बात सुनने में बहुत आसान और सामान्य लगती है पर बहुत से ऐसे यूजर होते हैं जो अपने कंप्यूटर में दो-दो साल तक ऐसी एप्स को रखे रहते हैं जिनका या तो वो कभी उपयोग नहीं करते या साल भर में एक दो बार ही करते हैं और ये एप्स उनके सिस्टम की मेमोरी यूज़ करते हैं और उसे स्लो बना देते हैं, तो हमें ऐसी एप्स को uninstall कर देना चाहिए जिनका हम उपयोग नहीं करते या जिनकी हमें जरुरत नहीं है।

आपने भी आपके सिस्टम में कई एप्स और सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल किया होगा तो आपको उन एप्स और सॉफ्टवेयर को uninstall कर देना चाहिए जिनका आप यूज़ नहीं करते, कई बार हमें सिस्टम खरीदने पर बहुत सी एप्स पहले से इन्सटाल्ड मिलती हैं जिनका हम उपयोग नहीं करते, तो हमें ऐसी सभी एप्स को हटा देना चाहिए क्युकी ये सब हमरे कंप्यूटर की मेमोरी का यूज़ करती हैं और उसे धीमा कर देती हैं।

Windows 10 Ki Speed Kaise Badhaye

Control panel पर जाइये उसके बाद program and features पर जाइये और जहा जिस एप को अनइंस्टाल करना चाहते हैं उस पर राइट क्लिक कीजिये, और अनइंस्टाल कर दीजिये जैसे इमेज में दिखाया गया है।

आपके कंप्यूटर में कई ऐसी एप्स हो सकती हैं जिनका आप यूज़ नहीं करते, उन सब एप्स को uninstall कर दीजिये। कुछ एप्स को अनइंस्टाल करने पर आपका सिस्टम कंप्यूटर रीस्टार्ट करने के लिए कहेगा तो कंप्यूटर को रीस्टार्ट कर के बाकि एप्स को अनइंस्टाल कर देना।

समस्या निवारण (Troubleshooting )

कई बार हम देखते हैं की कुछ एप्स या प्रोग्राम ठीक से काम नहीं करते जैसे ऑडियो काम नहीं करता या इंटरनेट काम नहीं करता, तो यहाँ हम विंडोज के ट्रबलशूटिंग सिस्टम की मदद ले सकते हैं, विंडोज सर्च बार में troubleshooting टाइप कीजिये और troubleshoot पर क्लिक कीजिये

यहाँ आपको चार ऑप्शन मिलेंगे जिसमे से आप अपनी समस्या के हिसाब से ऑप्शन पर क्लिक कर सकते हैं, जैसे-यदि आपका इंटरनेट नहीं चल रहा है तो आप network and internet में connect to the internet पर क्लिक कर सकते हैं।

Windows 10 Ki Speed Kaise Badhaye

यह एक ट्रबलशूटिंग विंडो ओपन करेगा जिसमे आपको हर स्टेप में 3-4 नेक्स्ट पर क्लिक करना है, सिस्टम अपने आप driver या software की समस्या को इंटरनेट के द्वारा ठीक कर देगा, और यदि कोई फाइल मिस हो रही होगी तो उसे इंटरनेट से डाउनलोड करके प्रॉब्लम सही कर देगा

अगर इस तरीके से आपकी समस्या ठीक नहीं होती तो आप उस सॉफ्टवेयर या ड्राइवर को अनइंस्टाल करके दोबारा रीइंस्टॉल कर सकते हैं।

डिस्क क्लीनअप ( Disk Cleanup )

जब भी आप कोई सॉफ्टवेयर या एप कंप्यूटर से अनइंस्टाल करते हैं तो उसकी सभी फाइल्स डिलीट नहीं होती कुछ फाइल्स आपके सिस्टम में रह जाती हैं।

this PC पर क्लिक कीजिए, और windows एक्स्प्लोरर पर जाकर C ड्राइव पर राइट क्लिक कीजिये, और प्रॉपर्टीज में जाकर डिस्क क्लीनअप पर क्लिक कीजिये, और सभी फाइल्स जैसे टेम्पररी सिस्टम फाइल्स, रीसायकल बिन पर चेकमार्क लगाइये, और क्लीनअप सिस्टम फाइल्स पर क्लिक कीजिये, उसके बाद डिस्क क्लीनअप पर क्लिक कीजिए, प्रोसेस होने में थोड़ा टाइम लगेगा और आपकी डिस्क क्लीन हो जाएगी।

Windows 10 Ki Speed Kaise Badhaye

इसके बाद फिर से सभी फाइल्स को सलेक्ट कीजिए और more option पर क्लिक कीजिए,उसके बाद system restore and shadow copies पर क्लिक कीजिए, सिस्टम आपसे पूछेगा की क्या आप फाइल्स डिलीट करना चाहते हैं डिलीट पर क्लिक कीजिये, और डिस्क क्लीनअप यूटिलिटी प्रोग्राम आपके सिस्टम से सभी बेकार फाइल्स को डिलीट कर देगा।

Temp फाइल्स को हटाना

अब हम सिस्टम से टेम्प फाइल्स को डिलीट करेंगे, window key + R दबाइये, और जो विंडो ओपन होगी उसमे %temp% टाइप कीजिए और ओके पर क्लिक कीजिए, नेक्स्ट विंडो में सिस्टम सारी टेम्प फाइल्स शो कर देगा, ये सारी फाइल्स सिस्टम से साथ अपने आप बन जाती हैं, हमें इन फाइल्स की कोई जरुरत नहीं होती और ये हमारे सिस्टम को भी स्लो कर देती हैं।

Windows 10 Ki Speed Kaise Badhaye

ctrl + A दबाकर सभी फाइल्स को सेलेक्ट कर लीजिये और राइट क्लिक के बाद डिलीट पर क्लिक कीजिए, आपकी टेम्प फाइल्स डिलीट होने लगेंगी, कुछ फाइल ऐसी होंगी जो सिस्टम में ओपन होंगी इसीलिए वो डिलीट नहीं होंगी तो आप उन्हें कैंसिल कर दीजिए और और बाकि सभी फाइल्स डिलीट हो जाएंगी।

अगर आप जानना चाहते है कि वेबसाइट गूगल पर कैसे रैंक करती हैं और गूगल के सबसे महत्वपूर्ण Google Ranking Factors क्या हैं तो लिंक पर क्लिक कर आप हमारा वह पोस्ट पढ़ सकते हैं।

प्रीफ़ेच फाइल्स को डिलीट करना

टेम्प फाइल्स को डिलीट करने के बाद, फिर से window key + R दबाइये और prefetch टाइप कीजिए उसके बाद ओके पर क्लिक कीजिये, सभी प्रीफ़ेच फाइल ओपन हो जाएंगी, ये फाइल्स भी टेम्प फाइल्स की तरह होती हैं जिनकी हमें कोई जरुरत नहीं होती पर ये सिस्टम में रहकर कंप्यूटर को स्लो कर देती हैं

hinditech4u.com

ctrl + A दबाकर सभी फाइल्स को सेलेक्ट कर लीजिये और राइट क्लिक के बाद डिलीट पर क्लिक कीजिए, आपकी प्रीफ़ेच फाइल्स डिलीट होने लगेंगी, कुछ फाइल ऐसी होंगी जो सिस्टम में ओपन होंगी वो डिलीट नहीं होंगी तो आप उन्हें कैंसिल कर दीजिए और और बाकि सभी फाइल्स डिलीट हो जाएंगी।

अपडेट एंटीवायरस

यह एक छोटी सी बात लगती है और बहुत लोग इस पर ध्यान नहीं देते, पर एंटीवायरस का version बहुत मेटर करता है, यदि आप कोई पुराना एंटीवायरस यूज़ कर रहे हैं और उसे अपडेट नहीं करते तो वह आपकी कोई मदद नहीं कर पाएगा

एंटीवायरस एक ऐसा प्रोग्राम है जो आपके सिस्टम में हर समय चालू होता है और काम करता रहता है, और अगर वही अपडेट नहीं होगा तो इससे आपके सिस्टम की परफॉरमेंस और सिक्योरिटी पर बुरा असर पड़ेगा, गूगल पर जाकर आप किसी भी एंटीवायरस को अपडेट कर सकते हैं।

अपडेट ड्राइवर्स

कंप्यूटर सिस्टम में ड्राइवर्स को अपडेट रखना बहुत जरुरी होता है, आपको ड्राइवर्स को हमेशा अपडेटेड रखना चाहिए क्युकी इन्ही के द्वारा हम सभी प्रोग्राम और फाइल्स पर काम करते हैं

this PC पर राइट क्लिक करे, फिर मैनेज पर जाए, उसके बाद डिवाइस मैनेजर पर क्लिक करें, आपके सामने सिस्टम के हार्डवेयर और ड्राइवर्स की लिस्ट आ जाएगी और यदि आप किसी ड्राइवर का अपडेट चेक करना चाहते हैं तो उस ड्राइवर पर राइट क्लिक करें, उसके बाद अपडेट ड्राइवर सॉफ्टवेयर पर क्लिक करे

hinditech4u.com

ड्राइवर अपडेट सिस्टम दो तरह से काम करता है, ड्राइवर्स को इंटरनेट से डाउनलोड करके अपडेट करना या ड्राइवर्स की फाइल्स को कंप्यूटर में सर्च करना, अगर आपके पास इंटरनेट कनेक्शन है तो आप पहला ऑप्शन सेलसेक्ट कीजिए वरना दूसरे ऑप्शन पर जाइये, वो आपके कंप्यूटर में फाइल्स को सर्च करेगा और यदि कोई अपडेट या मिसिंग फाइल होगी तो उसे अपडेट कर देगा।

ऑटो अपडेट बंद करना

हमने यह अनुभव किया है की हमारे कंप्यूटर का CPU ऑटो अपडेट की वजह से बिजी रहता है और दूसरे एक्शन्स में स्लो हो जाता है इसीलिए हम अपने सिस्टम में ऑटो अपडेट बंद रखते हैं और एक महीने या पंद्रह-बीस दिन में खुद अपडेट के लिए चेक कर लेते हैं और कोई अपडेट होता है, तो खुद अपडेट कर देते हैं।

ऑटो अपडेट को बंद करने के लिए स्टार्ट मेनू पर राइट क्लिक कीजिए, और कण्ट्रोल पैनल में जाकर एडमिनिस्ट्रेटिव टूल्स पर क्लिक कीजिए, अब सर्विसेस पर क्लिक कीजिए, वहां पर W दबाइये और विंडोज अपडेट ढूंढिए

hinditech4u.com

अब विंडोज अपडेट पर डबल क्लिक कीजिए और स्टेटस में जाकर डिसएबल या मैन्युअल कर दीजिए, उसके बाद सर्विस स्टेटस में जाकर स्टॉप कर दीजिए। आप जब भी चाहे खुद से अपडेट के लिए चेक करके अपडेट कर सकते हैं।

अनचाहे एक्सटेंशन्स को हटाना

अगर आपका सिस्टम और इंटरनेट स्लो परफॉर्म कर रहा है तो कैश और कूकीज को क्लियर कीजिए पर साथ में अनुपयोगी और अनचाहे एक्सटेंशन्स को भी डिलीट कर दीजिए क्युकी ये आपके ब्राउज़र पर लोड बढ़ा देते है और वो स्लो काम करने लगता है

गूगल क्रोम में एक्सटेंशन्स को डिलीट करने के लिए ऊपर राइट साइड में 3 डॉट पर क्लिक कीजिए क्रोम का मेनू ओपन हो जाएगा उसमे सेटिंग्स पर क्लिक कीजिए, फिर सेटिंग्स में एक्सटेंशन्स पर क्लिक कीजिए, और उन एक्सटेंशन्स को चेक कीजिए जिनका आप उपयोग नहीं करते या जो आपके लिए काम के नहीं हैं

hinditech4u.com

आप एक्सटेंशन्स को डिसएबल कर सकते हैं या रिमूव कर सकते हैं, हमारी सलाह में आपको रिमूव कर देना चाहिए इससे आपके ब्राउज़र की परफॉरमेंस और स्पीड दोनों बढ़ जाएगी। अगर आप कोई और ब्राउज़र यूज़ करते हैं जैसे फायर फॉक्स या एज, तब भी आप यही स्टेप फॉलो कर सकते हैं।

डिसएबल रिस्टोर पॉइंट

अब हम अपने सिस्टम से रिस्टोर पॉइंट को डिसएबल करेंगे, स्टार्ट पर राइट क्लिक करे और कण्ट्रोल पेनल पर जाए, फिर सिस्टम्स पर क्लिक करे और राइट साइड दिख रहे सिस्टम प्रोटेक्शन पर क्लिक करें

सिस्टम प्रोटेक्शन में आप देख सकते हैं की रिस्टोर पॉइंट ऑन है, कॉन्फ़िगर पर क्लिक करे और अगली विंडो में आपको दो ऑप्शन मिलेंगे, टर्न ऑन सिस्टम प्रोटेक्शन और डिसएबल सिस्टम प्रोटेक्शन

हम इसे बंद कर रहे हैं पर ये आपके ऊपर है की आप इसे बंद करना चाहते हैं या नहीं क्युकी इसे बंद करने के बाद आपका सिस्टम रिस्टोर पॉइंट्स क्रिएट नहीं करेगा

hinditech4u.com

तो यदि आप अपने सिस्टम के पुराने version पर जाना चाहते हैं या देखना चाहते हैं की चार दिन या पंद्रह दिन पहले आपका सिस्टम कैसा दिखता था तो आप इसे डिसएबल ना करे, पर इसे डिसएबल करने से यह रिस्टोर पॉइंट क्रिएट नहीं करेगा, जिससे आपके सिस्टम की मेमोरी फ्री रहेगी और वह फ़ास्ट परफॉर्म करेगा।

यदि आप डिसएबल करना चाहते हैं तो डिसएबल को चेकमार्क करे, और ओके दबाएं वह डिसएबल हो जाएगा

डिस्क डीफ्रेगमेंट ( disk defragment )

अब हम डिस्क डीफ्रेगमेंट और ऑप्टिमाइजेशन करेंगे, विंडोज सर्च बार में disk defragment टाइप करे और defragment and optimize drive पर क्लिक करें, और C ड्राइव को सेलेक्ट करें

hinditech4u.com

यहाँ हम ड्राइव को एनालाइज और ऑप्टिमाइज़ कर सकते हैं, इसमें सिस्टम अपने स्पेस को एक निश्चित क्रम पर पुनः निर्दिष्ट (reallocate )करता है ताकि सिस्टम अच्छे से और तेजी से काम कर सके, तो C ड्राइव को सेलेक्ट कीजिए और ऑप्टिमाइज़ पर क्लिक कीजिए, यह 30 मिनिट – एक घंटे में आपकी पूरी ड्राइव को ऑप्टिमाइज़ कर देगा।

बूट क्लीन करना

अब हम अपने सिस्टम का बूट क्लीन करेंगे और इसके लिए फिर से window key + R दबाइये MSconfig टाइप कीजिए और ओके पर क्लिक कीजिए, नेक्स्ट टैब में सर्विसेज पर क्लिक कीजिए, उसके बाद सभी सर्विसेज को सेलेक्ट कर लीजिए और नीचे साइड हाईड आल माइक्रोसॉफ्ट सर्विसेज पर चेकमार्क लगा दीजिए

hinditech4u.com

जिससे सारी सर्विसेज डिसएबल हो जाएंगी सिर्फ माइक्रोसॉफ्ट की सर्विसेज एक्टिव रहेंगी, उसके बाद डिसएबल आल पर क्लिक करे, फिर अप्लाई और ओके, ये करने के बाद सिस्टम रीस्टार्ट मांगेगा तो सिस्टम को रीस्टार्ट करे

मैलवेयर और वायरस

कई बार ऐसा होता है कि हमारे कंप्यूटर में कोई अच्छा एंटीवायरस न होने के कारण या किसी ख़राब फाइल या वेबसाइट से हमारे सिस्टम में मैलवेयर और वायरस आ जाते हैं जो हमारे कंप्यूटर की सिस्टम फाइल्स और दूसरी फाइल को करप्ट कर देते है जिससे हमारे कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर और प्रोग्राम सही से काम नहीं करते और हमारा सिस्टम स्लो हो जाता है, और हैंग करने लगता है।

इसके लिए आपको एक अच्छा और विश्वसनीय एंटीवायरस अपने कंप्यूटर में डालना चाहिए और किसी भी बिना सिक्योरिटी वाली वेबसाइट पर विजिट नहीं करना चाहिए और न ही किसी अनजानी फाइल या सॉफ्टवेयर को इंसटाल करना चाहिए।

रिसेट PC

अगर आप ऊपर बताई गई सभी सेटिंग्स करने के बाद भी अपने सिस्टम की परफॉरमेंस से संतुष्ट नहीं हैं तो आप अपने सिस्टम को रिसेट कर सकते हैं, उसके लिए सर्च बॉक्स में reset टाइप करे और reset this PC पर क्लिक करे

इस प्रोसेस को करने से पहले आपको दो बातें ध्यान में रखनी होंगी, पहला तो आपके पास आपके सिस्टम की रिकवरी होनी चाहिए और अगर आपके पास नहीं है तो पहले रिकवरी बना लें, और दूसरा, आपके पास आपकी फाइल्स, इमेजेज, फ़ोल्डर्स का बैकअप होना चाहिए और यदि नहीं है तो आप किसी अन्य हार्डड्राइव में बैकअप बना लें

hinditech4u.com

रिकवरी और बैकअप बना लेने के बाद रिसेट pc में जाएं और get started पर क्लिक करे अगली विंडो में आपको दो ऑप्शन मिलेंगे keep my files(मेरी फाइल्स डिलीट मत करो ) और remove everything (सबकुछ डिलीट कर दो) हमारी सलाह से आपको पहला ऑप्शन सलेक्ट करना चाहिए। ऑप्शन सेलेक्ट करने के बाद की सारी प्रोसेस अपने आप हो जाएगी

निष्कर्ष

ऊपर बताई गई सभी टिप्स, सेटिंग्स से हमने सीखा कि Windows 10 Ki Speed Kaise Badhaye और Slow Computer Ko Fast Kaise Kare, हो सकता है की इसके अलावा भी और कुछ टिप्स हो कंप्यूटर की स्पीड बढ़ने की, पर हमने यहाँ सभी जरुरी सेटिंग्स को बताया है और अगर इसके बाद भी आपके सिस्टम ठीक से परफॉर्म नहीं कर रहा, तो आपके कंप्यूटर में कोई हार्डवेयर की समस्या हो सकती है जैसे RAM काम होना या कोई और अन्य समस्या, जिसके लिए तकनीशियन से मिल सकते है।

सीखते रहो सिखाते रहो

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *