Encryption Kya Hai? Easy & Complete Hindi Guide 2021

Encryption Kya Hai

क्या आप जानते हैं कि Encryption Kya Hai या एन्क्रिप्शन का क्या अर्थ होता है(encryption meaning in hindi) तो आज हम इसी विषय पर विस्तार से चर्चा करने वाले हैं, और एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देने वाले हैं।

एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन कंप्यूटर भाषा में अक्सर प्रयोग किये जाने वाले शब्द हैं पर अधिकतर लोग इनके बारे में नहीं जानते क्युकि उन्होंने कभी इस प्रश्न का उत्तर खोजने का प्रयास ही नहीं किया होता।

पर आज हम एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन से जुड़े सभी सवालों जैसे Encryption Kya Hai(what is encryption in hindi), encryption meaning in hindi, एन्क्रिप्शन के प्रकार, किसी फाइल को एन्क्रिप्ट कैसे करें(how to encrypt a file), किसी फाइल को डिक्रिप्ट कैसे करें (how to decrypt a file) और इसी तरह के अन्य सभी सवालों के जवाब देने वाले हैं।

Contents hide

क्रिप्टोग्राफ़ी क्या है(What is Cryptography In Hindi)

अगर आप सुरक्षित संचार कर रहे हैं और डाटा को अनधिकृत लोगों से बचा रहे हैं, तो आप क्रिप्टोग्राफ़ी कर रहे हैं। क्रिप्टोग्राफ़ी एक प्रक्रिया है जिसमे प्लैन टेक्स्ट (मानव पठनीय) संदेश विभिन्न गणितीय क्रियाओं की श्रंखला के माध्यम से जाता है,

इस प्रक्रिया में plain text (मानव पठनीय) संदेश को ciphertext (कूटलिखित पाठ्यांश) में परिवर्तित कर दिया जाता है, plain text संदेश को ciphertext में परिवर्तित करने की प्रक्रिया एन्क्रिप्शन और ciphertext संदेश को plain text में परिवर्तित करने की प्रक्रिया डिक्रिप्शन कहलाती है।

plain text और ciphertext का अर्थ

plain text – प्लैन टेक्स्ट का अर्थ होता है ऐसे शब्द या सन्देश जिसे मानव द्वारा पढ़ा और समझा जा सकता है।

ciphertext – ciphertext (कूटलिखित पाठ्यांश) ऐसी शब्दावली होती है जिसे हम पढ़ या समझ नहीं सकते है।

यहाँ से अब हम एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन के बारे में विस्तार से जानेंगे पर परिभाषाओं को जानने से पहले इन्हें अच्छी तरह समझने के लिए हम एक परिदृश्य को देखते हैं।

“एक आर्मी अफसर अपने सैनिकों को एक गुप्त सन्देश भेजता है, आर्मी अफसर एक कोडेड सन्देश (ciphertext) भेजता है और सैनिक उसे डिकोड (plain text) कर लेते हैं। यह कार्य एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन की प्रक्रिया द्वारा किया गया है।”

एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन की प्रक्रिया को नीचे प्रदर्शित किया गया है =>

अगर आप इंटरनेट पर अपनी सुरक्षा और प्राइवेसी को लेकर चिंतित है और अपने कनेक्शन को प्राइवेट बनाना चाहते है तो आप VPN Kya Hota Hai? VPN Kaise Use Kare No.1 Free Hindi Guide इस लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं।

Encryption Kya Hai (Meaning Of Encryption In Hindi)

एन्क्रिप्शन का अर्थ – एन्क्रिप्शन एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके द्वारा plain text(मानव पठनीय) सन्देश को कोडेड सन्देश (ciphertext) में परिवर्तित किया जाता है।

ऊपर बताये गए परिदृश्य से हम आसानी से एन्क्रिप्शन के अर्थ को समझ सकते हैं, जब हैलो जैसे सामान्य शब्द को कोड/एन्क्रिप्ट कर दिया जाता है तो वह “43+64=BM” जैसे कूट शब्द (ciphertext) में परिवर्तित हो जाता है।

उपरोक्त प्रदर्शन पर, हम कह सकते हैं कि यहाँ एक मानक संदेश (plain text) को एक अर्थहीन कथन (ciphertext) में परिवर्तित किया जा रहा है जिसे एन्क्रिप्शन कहा जाता है।

Data Encryption Kya Hai

डाटा एन्क्रिप्शन, एन्क्रिप्शन की वह प्रक्रिया है जिसमे किसी डाटा या जानकारी को एन्क्रिप्शन प्रक्रिया द्वारा ciphertext में परिवर्तित करके सुरक्षित किया जाता है ताकि कोई भी अनाधिकृत व्यक्ति उस डाटा को एक्सेस न कर सके। एन्क्रिप्टेड डाटा को एक्सेस करने के लिए आपको उसे डिक्रिप्ट करना होगा जिसके लिए उसके key (पासवर्ड) की जरुरत होगी।

End To End Encryption Kya Hai

एन्ड टू एन्ड एन्क्रिप्शन एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमे डाटा को एन्क्रिप्ट करके (ciphertext में परिवर्तित करके) भेजने वाले द्वारा प्राप्तकर्ता को भेजा जाता है। जिससे उस डाटा को सिर्फ भेजने वाला और प्राप्त करने वाला ही देख और पढ़ पाता है।

यहाँ तक की जिस एप्लीकेशन या सॉफ्टवेयर(व्हाट्सप्प/ईमेल) के द्वारा सन्देश भेजा जाता है, उसके मालिक को भी पता नहीं होता कि क्या डाटा या मैसेज भेजा गया है।

WhatsApp Encryption Kya Hai In Hindi

व्हाट्सप्प एन्क्रिप्शन में एन्ड टू एन्ड एन्क्रिप्शन मेथड का प्रयोग किया जाता है, जिसके बारे में हम ऊपर बता चुके हैं।

व्हाट्सप्प का उपयोग मुख्यतः सन्देश भेजने के लिए किया जाता है और यूजर की प्राइवेसी और सुरक्षा के लिए उनके मैसेज को एन्ड टू एन्ड एन्क्रिप्शन के द्वारा भेजा जाता है, जिससे कोई भी इनके मैसेज को किसी भी हैकिंग तकनीक से हैक न कर सके और न ही उसे पढ़ सके।

अगर आप गूगल को बहुत ही साधारण तरीके से उपयोग करते हैं तो आपको जरूर जानना चाहिए की गूगल पर सर्च कैसे करे 17 बेस्ट गूगल सर्च ट्रिक्स इन हिंदी लिंक पर क्लिक करके आप हमारा वह पोस्ट पढ़ सकते हैं।

Decryption Kya Hai (Meaning Of Decryption In Hindi)

डिक्रिप्शन का अर्थ – डिक्रिप्शन एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके द्वारा कोडेड सन्देश (ciphertext) को plain text(मानव पठनीय) सन्देश में परिवर्तित किया जाता है।

ऊपर प्रदर्शित परिदृश्य से इस प्रश्न डिक्रिप्शन क्या है का उत्तर आसानी से समझा जा सकता है जब “43+64=BM” जैसे कोडेड कूट शब्द (ciphertext) को हैलो जैसे सामान्य अर्थपूर्ण शब्द में परिवर्तित किया जाता है तो वह डिक्रिप्शन कहलाता है।

उपरोक्त प्रदर्शन पर, हम कह सकते हैं कि यहाँ एक अर्थहीन कथन (ciphertext) को एक मानक संदेश (plain text) में परिवर्तित किया जा रहा है जिसे डिक्रिप्शन कहा जाता है।

आइये अब जानते हैं कि एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन में क्या अंतर हैं?

एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन में क्या अंतर हैं?

एक बार यह अच्छी तरह से समझने के बाद कि encryption kya hai और decryption kya hai, हम आसानी से इन दोनों कि तुलना कर सकते हैं और इनमे अंतर बता सकते हैं =>

क्रमांक तथ्य एन्क्रिप्शन डिक्रिप्शन
1 प्रक्रिया डाटा को सुरक्षा प्रदान करने के लिए पठनीय डाटा का अपठनीय रूपांतरण किया जाता है। सन्देश को समझने के लिए अपठनीय डाटा का पठनीय रूपांतरण किया जाता है।
2 किसके द्वारा भेजने वाला डाटा को एन्कोड करता है। प्राप्त करने वाला डाटा को डिकोड करता है।
3 मुख्य कार्य plain text को ciphertext में परिवर्तित किया जाता है। ciphertext को plain text में परिवर्तित किया जाता है।
4चाबी(पासवर्ड)यह एक गुप्त कुंजी या एक सार्वजनिक कुंजी का उपयोग करके किया जा सकता है।डिक्रिप्शन एन्क्रिप्शन में प्रयोग की गई गुप्त कुंजी या सार्वजनिक कुंजी का उपयोग करके ही किया जा सकता है।
5 उदाहरण अफसर अपने सैनिकों को एक गुप्त सन्देश भेज रहा है। सैनिक उस सन्देश की जानकारी को प्राप्त करते हैं।
https://hinditech4u.com/

अगर आप जानना चाहते हैं कि Ghar Baithe Internet Se Paise Kaise Kamaye? तो इस लिंक पर क्लिक करके आप हमारा वह पोस्ट पढ़ सकते हैं।

एन्क्रिप्शन के प्रकार(What are the types of Encryption)

आइये अब हम अपने इस प्रश्न का उत्तर जानते हैं कि एन्क्रिप्शन के प्रकार(What are the types of Encryption) क्या है। एन्क्रिप्शन के दो प्रकार होते हैं symmetric and asymmetric encryption जो एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन में प्रयोग की जाने वाली कुंजी(key) पर आधारित हैं।

सिमेट्रिक एन्क्रिप्शन(symmetric encryption)

सिमेट्रिक एन्क्रिप्शन वह प्रक्रिया है जिसमे एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन के लिए एक ही कुंजी(key) का प्रयोग किया जाता है, और इस प्राइवेट key को जानकारी को प्राप्त करने के लिए भेजने वाले और प्राप्तकर्ता द्वारा शेयर किया जाता है।

असिमेट्रिक एन्क्रिप्शन(asymmetric encryption)

असिमेट्रिक एन्क्रिप्शन एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमे दो अलग-अलग कुंजियों का प्रयोग किया जाता है।

  • एक सार्वजनिक कुंजी होती है।

इस कुंजी का प्रयोग भेजने वाले द्वारा डाटा को एन्क्रिप्ट करने के लिए किया जाता है।

  • दूसरी प्राइवेट कुंजी होती है।

इस कुंजी के द्वारा प्राप्तकर्ता द्वारा डाटा को डिक्रिप्ट किया जाता है।

जैसा कि नाम से पता चलता है कि प्राइवेट कुंजी को गुप्त रखा जाता है और किसी को इसकी जानकारी नहीं दी जाती जबकि सार्वजनिक कुंजी सार्वजनिक रूप से उपलब्ध होती है।

प्राइवेट कुंजी और सार्वजनिक कुंजी के अर्थ को समझना बहुत जरुरी है क्युकि इसी के द्वारा एन्क्रिप्शन के प्रकार को समझा जा सकता है।

निजी कुंजी

जब डाटा को एन्क्रिप्ट और डिक्रिप्ट करने के लिए एक ही किंजी का उपयोग किया जाता है तो वह उसकी निजी कुंजी (private key) होती है। यह कुंजी सिर्फ भेजने वाले के द्वारा प्राप्त करने वाले के साथ डाटा को ciphertext से plain text में डिक्रिप्ट करने के लिए शेयर की जाती है।

सार्वजनिक कुंजी

इसमें एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन की प्रक्रिया में दो अलग-अलग कुंजियों का प्रयोग किया जाता है, यहाँ सन्देश भेजने वाला डाटा को एक सार्वजनिक कुंजी (सभी के लिए उपलब्ध) का प्रयोग करता है, जबकि प्राप्तकर्ता द्वारा डाटा को एक प्राइवेट की के द्वारा डिक्रिप्ट किया जाता है।

निजी और सार्वजनिक कुंजी के उदाहरण

मान लीजिये किसी कंपनी का मैनेजर अपनी किसी कर्मचारी को कोई एन्क्रिप्टेड ईमेल भेजना चाहता है तो वह उस कर्मचारी की पब्लिक की लेता है और उससे ईमेल को एन्क्रिप्ट करके भेज देता है।

वह कर्मचारी अपनी निजी कुंजी का प्रयोग करके उस उस ईमेल के डाटा को डिक्रिप्ट कर लेता है, पर यदि कोई हैकर या अन्य व्यक्ति उस ईमेल की जानकारी प्राप्त करना चाहे तो जब तक उसके पास वह प्राइवेट की नहीं होगी वह उस डाटा को डिक्रिप्ट नहीं कर सकता है।

और अगर कर्मचारी को उस ईमेल का उत्तर देना हो तो वह भी इसी प्रक्रिया को दोहरा सकता है और अपने मैनेजर की सार्वजनिक कुंजी प्राप्त करके उसके द्वारा अपने उत्तर को ईमेल में एन्क्रिप्ट करके भेज सकता है।

हम सब इंटरनेट का उपयोग करते हैं पर यदि कोई पूछे की इंटरनेट क्या है और कैसे काम करता है तो हम उसे नहीं समझा पाएंगे इसीलिए हमने इंटरनेट पर पूरा गाइड तैयार किया है और पोस्ट लिखा है, जिसे पढ़कर आप अपनी इंटरनेट के बारे में जानकारी को बढ़ा सकते हैं।

किसी फाइल को एन्क्रिप्ट कैसे करे(How to Encrypt a file)

यह जानना बहुत महत्पूर्ण है कि किसी फाइल को एन्क्रिप्ट कैसे किया जाता है, किसी फाइल को एन्क्रिप्ट करने के कई अलग-अलग तरीके होते हैं। आप यह विंडोज के बिल्ट इन फीचर के द्वारा भी कर सकते हैं और किसी अन्य सॉफ्टवेयर के द्वारा भी।

एन्क्रिप्शन के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करे =>

  • सबसे पहले एन्क्रिप्ट की जाने वाली फाइल पर राइट क्लिक कीजिये और उसकी प्रॉपर्टीज पर जाइये।
  • अब एडवांस्ड बटन पर क्लिक कीजिए, यहाँ एन्क्रिप्ट कंटेंट पर क्लिक कीजिये।
  • अंत में ओके पर क्लिक कीजिये और अडवांस्ड ऑप्शंस की विंडो को बंद करने के लिए अप्लाई और ओके पर क्लिक कीजिये।

एन्क्रिप्शन के उदाहरण

एन्क्रिप्शन के बहुत से उदाहरण हो सकते हैं पर हम बेहतर समझने के लिए सिमेट्रिक और असिमेट्रिक एन्क्रिप्शन के उदाहरण को अलग-अलग देखेंगे =>

सिमेट्रिक एन्क्रिप्शन का उदाहरण

मान लीजिये हम एक सिंपल प्लैन टेक्स्ट सन्देश “हैलो ” को ciphertext “43+64=BM” में सिमेट्रिक एन्क्रिप्शन से एन्क्रिप्ट करना चाहते हैं। हम टेक्स्ट को एक कुंजी(key) के माधयम से एन्क्रिप्ट करेंगे, मान लीजिये कुंजी “Ap_R1” है।

“Ap_R1” कुंजी के द्वारा एन्क्रिप्शन करने से हमारा शब्द हेलो “43+64=BM” में परिवर्तित हो जाएगा, जो एक अपठनीय रूप में है, जिसे फिर से “Ap_R1” से डिक्रिप्ट करने पर फिर से हमें हेलो शब्द प्राप्त हो जाएगा।

अगर आपका कंप्यूटर या लैपटॉप स्लो चलता है या आप उसकी ख़राब परफॉरमेंस से परेशान हैं और अपने कंप्यूटर की स्पीड बढ़ाना चाहते हैं, तो आप हमारा पोस्ट कंप्यूटर की स्पीड कैसे बढ़ाएं सिस्टम को सुपरफास्ट कैसे बनायें पढ़ कर अपने कंप्यूटर को पहले जैसे फ़ास्ट बना सकते हैं।

असिमेट्रिक एन्क्रिप्शन का उदाहरण

मान लीजिये मैनेजर अपनी संस्था में किसी निर्धारित कार्यकर्त्ता को असिमेट्रिक एन्क्रिप्शन के द्वारा एक एन्क्रिप्टेड मैसेज भेजना चाहता है, तो इसके लिए वह इस प्रक्रिया को फॉलो करेगा =>

यहाँ एक पब्लिक की है जिसे विभिन्न यूजर द्वारा प्रयोग किया जाता है, मैनेजर उस कर्मचारी की पब्लिक की लेगा और उससे अपने मैसेज को एन्क्रिप्ट करके उस कर्मचारी को भेज देगा।

एक बार मैसेज प्राप्त हो जाने के बाद वह कार्यकर्त्ता उस मैसेज को अपनी प्राइवेट की का उपयोग करके डिक्रिप्ट कर सकता है।

किसी फाइल को डिक्रिप्ट कैसे करे(How to Decrypt a file)

आइये हम सिंपल स्टेप्स में जानते है कि किसी फाइल को डिक्रिप्ट कैसे करे(How to Decrypt a file)=>

  • अपने विंडोज के सर्च बार में सर्च करके या this PC में जाकर उस फाइल पर जाइये जिसे डिक्रिप्ट करना है।
  • उस फाइल पर राइट क्लिक कीजिये और प्रॉपर्टीज पर जाइये।
  • जनरल टैब में एट्रीब्यूट सेक्शन के नीचे एडवांस ऑप्शन पर क्लिक कीजिये।
  • आपको एन्क्रिप्ट कंटेंट टू सिक्योर डाटा के बाजु में एक चेक बॉक्स मिलेगा उसे अनचेक कर दीजिये
  • अब एंटर या ओके पर क्लिक कीजिये।

आपकी फाइल डिक्रिप्ट हो जाएगी।

क्या आप जानते हैं कि कॉल फॉरवार्डिंग क्या है और इसके क्या फायदे हैं जानने के लिए लिंक पर क्लिक करके आप हमारा कॉल फॉरवार्डिंग का पोस्ट पढ़ कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

SD Card Encryption

जैसा कि हम जानते हैं कि एन्क्रिप्शन किसी पठनीय जानकारी को अपठनीय रूप में परिवर्तित करने की प्रक्रिया है, तो SD card एन्क्रिप्शन का अर्थ होता है SD card के डाटा को ciphertext(अपठनीय) रूप में परिवर्तित करना, जिससे उस पर सुरक्षा की एक परत लग जाती है, और उसके डाटा को एक्सेस करने के लिए एक key(पासवर्ड) की जरुरत होती है।

अगर आप एन्क्रिप्टेड SD card के डाटा को पढ़ना या देखना चाहते हैं तो उसके डाटा को डिक्रिप्ट करने के लिए आपको उसकी key(पासवर्ड) की जरुरत होगी उसके बिना आप उसके डाटा को देख/पढ़ नहीं पाएंगे।

Encrypted SD Card Meaning

Encrypted SD Card का अर्थ होता है कि SD कार्ड का डाटा एन्क्रिप्टेड(एन्क्रिप्शन प्रक्रिया द्वारा सुरक्षित) है और कोई उसके डाटा को बिना key(पासवर्ड) के एक्सेस नहीं कर सकता है। उसके डाटा को सिर्फ वही व्यक्ति एक्सेस कर सकता है जो उसकी key(पासवर्ड) को जनता है।

SD कार्ड को एन्क्रिप्ट कैसे करे(How To Encrypt SD Card)

आजकल अधिकांश मोबाइल कंपनियां डिवाइस और SD कार्ड के डाटा को एन्क्रिप्ट या डिक्रिप्ट करने के लिए मोबाइल में एन्क्रिप्शन के फीचर को देती है, जो कि बहुत ही सामान्य प्रक्रिया है। अगर आपके फ़ोन में एन्क्रिप्शन का फीचर है तो आप आसानी से अपने SD कार्ड को एन्क्रिप्ट या डिक्रिप्ट कर सकते हैं।

SD कार्ड या डिवाइस को एन्क्रिप्ट करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें =>

  • सेटिंग्स में जाये।
  • लॉक स्क्रीन एंड सिक्योरिटी सेटिंग में जाये( कुछ स्मार्टफोन यूजर को (कंपनी के दिए गए ऑप्शन के अनुसार) एन्क्रिप्शन का ऑप्शन प्राइवेसी एंड सेफ्टी सेटिंग्स में भी मिल सकता है )
  • नीचे स्क्रॉल करे आपको एन्क्रिप्ट SD कार्ड और एन्क्रिप्ट डिवाइस के ऑप्शन मिल जाएंगे।
  • एन्क्रिप्ट SD कार्ड पर क्लिक कीजिये।
  • अब फिर से एन्क्रिप्ट पर क्लिक कीजिये।
  • अब यह आपसे एन्क्रिप्शन key(पासवर्ड) एंटर करने को कहेगा, जिसकी जरुरत आपको SD कार्ड के डाटा को एक्सेस करने के लिए भी पड़ेगी। अपना पासवर्ड एंटर करे और यह SD कार्ड एन्क्रिप्शन की प्रकिया को शुरू कर देगा।

यह फाइल के साइज के हिसाब से 30 मिनिट से 1 घंटे तक का समय ले सकता है, आपके फ़ोन में एन्क्रिप्शन प्रोसेस को कम्पलीट करने के लिए पर्याप्त बैटरी होनी चाहिए।

एन्क्रिप्शन प्रोसेस पूरी होने के बाद SD कार्ड के डाटा को एक्सेस करने के लिए आपको उसी key(पासवर्ड) की जरुरत होगी।

क्या आप जानते हैं कि एंड्राइड फ़ोन रुट करना क्या होता है और इसके क्या फायदे और नुकसान हैं जानने के लिए लिंक पर क्लिक करके आप हमारा पोस्ट पढ़कर इसकी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

SD कार्ड को डिक्रिप्ट कैसे करे(How To Decrypt SD Card)

SD कार्ड को डिक्रिप्ट करने की प्रोसेस भी एन्क्रिप्शन प्रोसेस के जैसी ही है। SD कार्ड को डिक्रिप्ट करने के लिए इस स्टेप्स को फॉलो करें =>

  • सेटिंग्स में जाये।
  • लॉक स्क्रीन एंड सिक्योरिटी सेटिंग में जाये
  • नीचे स्क्रॉल करे आपको डिक्रिप्ट SD कार्ड का ऑप्शन मिल जाएगा।
  • डिक्रिप्ट SD कार्ड पर क्लिक कीजिये।
  • अब फिर से डिक्रिप्ट पर क्लिक कीजिये।
  • अब यह आपसे डिक्रिप्ट key(पासवर्ड) एंटर करने को कहेगा, अपना पासवर्ड एंटर करे और आपका SD कार्ड डिक्रिप्ट हो जाएगा।

अगर आपके SD कार्ड में कुछ महत्वपूर्ण या गुप्त रखने योग्य डाटा है तभी अपने SD कार्ड को एन्क्रिप्ट कीजिये क्युकि आपको उसके डाटा को रीड करने के लिए हर बार पासवर्ड एंटर करना होगा।

और यदि आप उस SD कार्ड किसी अन्य डिवाइस में लगाते हैं तो बिना उसे डिक्रिप्ट करे वह कोई डाटा शो नहीं करेगा।

क्या आप जानते हैं कि पॉडकास्ट क्या है और इसे कैसे बनाया जाता है और इससे क्या होता है जानने के लिए लिंक पर क्लिक करके आप हमारा वह पोस्ट पढ़ सकते हैं।

निष्कर्ष

पूरी गाइड को पढ़ने के बाद आप अच्छी तरह समझ गए होंगे कि encryption kya hai , decryption kya hai, एन्क्रिप्शन के प्रकार क्या है, किसी फाइल को एन्क्रिप्ट कैसे करे और वो सब कुछ जो आप एन्क्रिप्शन के बारे में जाना चाहते है।

पर हम किसी डिवाइस, डाटा, या SD कार्ड को एन्क्रिप्ट करने की सलाह तभी देंगे जब उसमे बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी हो जिसे आप गुप्त रखना चाहते हों, क्युकि एक बार एन्क्रिप्ट करने के बाद आपको उसके डाटा को देखने या पढ़ने के लिए उसे डिक्रिप्ट करना होगा।

और यदि आप उसका key/पासवर्ड भूल गए तो आपको समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

अगर आपको हमारा यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताये और इसी तरह की टेक्नोलॉजी और ब्लॉगिंग से सम्बंधित अन्य जानकारियों के लिए आप हमारे अन्य पोस्ट भी पढ़ सकते हैं।

इन्हे भी पढ़ें

अगर आप जानना चाहते हैं कि ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है और इसका क्या महत्व है तो लिंक पर क्लिक करके आप हमारी ऑपरेटिंग सिस्टम की कम्पलीट हिंदी गाइड पढ़ सकते हैं।

अगर आप कंप्यूटर वायरस और उनके प्रकार के बारे में और उनसे बचने के उपाय जानना चाहते हैं तो लिंक पर क्लिक करके हमारा वह पोस्ट पढ़ सकते हैं।

अगर आप इंटरनेट पर होने वाले फ्रॉड धोकेबाजी से बचना चाहते हैं तो आपको phishing क्या है और फिशिंग अटैक से कैसे बचें पता होना चाहिए और आप इसके लिए हमारा पोस्ट पढ़कर अपने आप को इंटरनेट जालसाजी से बचा सकते है।

YouTube Channel Kaise Banaye | YouTube Se Paise Kaise Kamaye Ultimate Free Hindi Guide 2021

सीखते रहो सिखाते रहो

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Exit mobile version